जम्मू में शख्स की ह’त्या के बाद सांप्रदायिक तनाव, परिवार का दावा- गो तस्करी के शक में मारी गोली

देश भर में बने चुनावी माहौल के बीच जम्मू-कश्मीर के डोडा ज़िले के भाद्रवाह में एक शख़्स की ह’त्या के बाद बावल मचा हुआ है. गुरुवार को इसके विरोध में प्रदर्शन हुए जिसने हिंस’क रूप ले लिए जिसके चलते इलाके में कर्फ़्यू लगाना पड़ा. बताया जा रहा है कि बुधवार को 50 वर्षीय नईम अहमद शाह की गो’ली मा’र के ह’त्या कर दी गई थी.

जिसके बाद गुरुवार को प्रदर्शनकारियों ने इलाक़े के सेरी बाज़ार, ताकिया चौक और जामा मस्जिद बाज़ार में हिं’सक प्रदर्शन किया इनता ही नहीं इस दौरान कई गाड़ियों में तोड़-फोड़ की गई. मृत’क के परिवार वालों ने बताया कि वुधवार की देर रात नईम चार घोड़े ख़रीदकर अपने घर लौट रहे थे.

Image Source: Google

इसी दौरान रास्ते में नल्थी पुल के पास उन पर हम’ला कर दिया गया. वहीं पुलिस ने इस मामले में आठ लोगों को हिरासत में लिया है और कहा है कि मौ’त का कारण जांच के बाद ही साफ़ हो सकेगा.

बीबीसी हिंदी को नईम अहमद के चचेरे भाई फ़िरदौस अहमद ने बताया कि नईम बुधवार की रात अपने साथियों ज़हूर अहमद और यासिर के साथ बानी से वापस लौट रहे थे तभी नाल्थी पुल पर उन पर हमला किया गया. फ़िरदौस ने बताया कि वह जानवरों की ख़रीद-फरोख़्त का काम करते थे.

Image Source: Google

उनके साथी यासिर बुरी तरह घायल हैं और उनका स्थानीय अस्पताल में इलाज चल रहा है. बताया जा रहा है कि रात डेढ़ बजे एक स्थानीय शख़्स ने उन पर गोलियां चलाईं. फ़िरदौस के अनुसार पिछले साल भी इसी इलाके में नईम पर हम’ला किया गया था और गांव के लोगों ने उनके इस रास्ते से गुज़रने पर आपत्ति जताई थी.

वहीं अपने पशुओं के साथ घर लौट रहे नईम पर कथित गौ रक्षकों ने हमला किया? इस सवाल के जवाब में एसएसपी मलिक ने कहा कि फ़िलहाल मामले की जांच की जा रही हैं. चूंकि हमने ऐसा कोई बयान दर्ज नहीं किया है इसलिए हम इस पर टिप्पणी नहीं कर सकते.