VIDEO: ब्रिटिश इमाम ने नमाज़ियों की हिफाज़त के लिये कीया ऐसा काम, दुनियाभर में हो रही है तारीफ

एक ब्रिटिश इमाम को अपने मुस्लिम समुदाय के लिए की गई उनकी सेवाओं के लिए सम्मानित किया गया. उन्हें प्रिंस विलियम द्वारा ऑर्डर ऑफ द ब्रिटिश एम्पायर (OBE) के अधिकारी से सम्मानित किया गया. इमाम मोहम्मद महमूद को आतं’कवादी हमले से नमाजियों की सुरक्षा करने में की गए अपने बहादुरी भरे कार्यों के लिए आज सम्मानित किया गया हैं.

साल 2017 में फिन्सबरी पार्क में नमाज़ अदा कर रहे मुस्लिम उपासकों को आतं’कवादियों द्वारा निशाना बनाने की कोशिश की गई थी. तभी इमाम मोहम्मद महमूद ने एक फरिश्ते की तरह अपनी वीरता का परिचय देते हुए नमाजियों की सुरक्षा की थी.

खलीज टाइम्स के अनुसार कैंब्रिज के ड्यूक प्रिंस विलियम ने गुरुवार को बकिंघम पैलेस में महमूद को हमला’वर डेरेन ओसबोर्न से लोगों की भीड़ को बचाने के लिए दी गई उनकी सेवाओं के लिए सम्मानित किया गया.

ब्रिटिश न्यूज़ चैनल आईटीवी से बात करते हुए इमाम मोहम्मद महमूद ने कहा कि उन्होंने नायक शब्द को स्वीकार नहीं किया लेकिन वो पुरस्कार पाने के लिए विनम्र थे. उन्होंने कहा कि वह लोग हैं जो कर्तव्य की रेखा से आगे जाते हैं जबकि मैंने उस रात जो किया वह हमारी मस्जिद के अन्य मण्डलों के समूह के साथ असाधारण नहीं था.

आपको बता दें कि इमाम के कार्यों की दुनिया भर में व्यापक रूप से प्रशंसा की गई थी. उनकी वीरता ने हर किसी को उनका कायल बना दिया था. उन्होंने कहा कि यह हमारा कर्तव्य था कि हम स्थिति को संभाले और लोगों को शांत करें और लोगों को उनकी समझ में लाए और शुक्र है कि हम वह कर सके.

आपको बता दें कि लंदन के फिन्सबरी पार्क आतं’की हम’ले में एक 51 वर्षीय मुस्लिम नमाज़ी मकरम अली की मौ’त हो गई थी. जबकि अन्य नौ नमाजी घायल हो गए थे. इस मामले में फरवरी 2018 में ओसबोर्न को दोषी ठहराया गया और इस आ’तंकी हमले के लिए उसे 43 साल की अवधि के लिए जेल में डाल दिया गया.