सऊदी अरब में नहीं दिखा चाँद, रमज़ान के पहले रोज़े की तारीख की हुई घोषणा

मुस्लिम धर्म में बेहद ही पाक माने जाने वाले रमज़ान महीने की शुरुआत होने जा रही है. दुनिया भर में रमज़ान के पाक महीने को लेकर तैयारियां की जा रही है. दुनिया भर में बड़ी ही बेसब्री के साथ उस पल का इंतजार किया जा रहा है जब रमजान का पाक महिना शुरू होगा. बता दें कि कई इस्लामिक देशों में रमज़ान को देखते हुए खास इंतजाम किये जा रहे है.

इसी बीच रमजान को लेकर बड़ी जानकारी सामने आई है. मीडिया रिपोर्ट्स के अनुसार शनिवार शाम को सऊदी अरब में रमज़ान की घटना को नहीं देखा गया. इसलिए रमज़ान 6 मई सोमवारसे शुरू होने वाला है. वहीं 5 मई को शाबान 29 को होगा.

Source: Google

अरब न्यूज़ के अनुसार रमज़ान के चाँद की 5 मई (रविवार) को स्पॉट किए जाने की प्रबल संभावना नजर आ रही है. इसलिए माना जा रहा है कि रमज़ान 6 मई को संयुक्त अरब अमीरात में शुरू होगा.

सऊदी सरकार की नीति के मुताबिक संयुक्त अरब अमीरात सऊदी द्वारा द्वारा की जाने वाली आधिकारिक घोषणा का पालन करता है. सऊदी अरब में चंद्रमा पर्यवेक्षकों ने कहा कि शनिवार को रमजान अर्धसैनिकों की कोई दृष्टि नहीं थी.

इसी के साथ आपको बता दें कि सऊदी अरब के इस्लामिक मामलों के मंत्री कॉल एंड गाइडेंस अब्दुल्लातिफ अल-अशेख ने हाल ही में जानकारी देते हुए बताया था कि रमज़ान के पाक और बरकती महीने को देखते हुए एक बड़ा फैसला लिया है.

सऊदी अरब ने इस पाक महीने के लिए दुनिया के 35 देशों में तरावीह (ईशा के बाद) और तहाज्जुद (देर रात) की नमाज़ के लिए 70 इमामों के प्रतिनिधिमंडल को जाने की मंजूरी प्रदान कर दी है.

वहीं सऊदी मीडिया के अनुसार 70 इमामों के प्रतिनिधिमंडल रमजान के दौरान दुनिया के दूसरे देशों में इमामों को भेजने और मुसलमानों को उनके धर्म के बारे में बताएगा. आपको बता दें कि यह काम सऊदी अरब का इस्लामिक मंत्रालय हर रमजान पर करना रहा है.