सऊदी पाइपलाइन पर हुए बड़े ह’मले के बाद यमन पर सऊदी नीत गठबंधन ने किया हमला छह लोगों की मौ’त

सऊदी अरब की अगुवाई वाले गठबंधन ने यमन की राजधानी सना में विद्रो’हियों के कब्जे वाले इलाके में बुधवार को जमकर हवाई हम’ले किये. जिसमें कम से कम छह लोगों की मौ’त हो गई जबकि करीबन दस अन्य घायल बताए जा रहे हैं. रिपब्लिकन हॉस्पिटल के डॉक्टर मोख्तर मोहम्मद ने कहा कि हम’ले में हताहत हुए सभी लोगों को इस अस्पताल में लाया गया है.

विद्रोहियों के अल-मसीराह टेलीविजन की खबर के मुताबिक कि सऊदी अरब के नेतृत्व वाली गठबंधन सेना ने उनके कब्जे वाले क्षेत्र में 19 हवाई हम’ले किये हैं जिसमें से 11 तो सिर्फ राजधानी में किये गये है.

Source: Google

वहीं अल अरबिया टीवी रिपोर्ट के अनुसार गुरुवार तड़के सऊदी गठबंधन ने यमन में हाऊती विद्रोहियों के खिलाफ सैन्य अभियान चलाने का ऐलान किया था. मंगलवार को हाऊती विद्रोहियों ने सऊदी के दो तेल पंपों के खिलाफ ड्रोन हमले किये थे. इसी के जवाब में यह अभियान चलाया गया.

गठबंधन के प्रवक्ता तुरकी अल-माल्की ने कहा कि इस अभियान का लक्ष्य हाऊती विद्रोहियों की आक्राम’कता नष्ट करना है. आपको बता दें कि मंगलवार को सउदी अरब के पूर्वी-पश्चिमी पाइपलाइन के दो पंपिंग स्टेशन को ड्रोन ह’मले से निशाना बनाया गया था.

बता दें कि यह पाइपलाइन प्रति दिन 20 लाख बैरल कच्चा तेल की आपूर्ति कर सकता है. यह सऊदी की सबसे बड़ी पाईपलाइन में से एक है. यह पाइपलाइन फारस की खाड़ी से जहाजों के आने-जाने का हरमुज जलडमरूमध्य का रास्ता बंद होने की स्थिति में सउदी अरब इस पाइपलाइन के जरिये तेल की आपूर्ति जारी रख सकती है.

वहीं इससे पहले रविवार को हुए हमले के दौरान चार टैंकरों को निशाना बनाया गया. जिसमें सउदी अरब के दो टैंकर अल-मर्जुका और अमजद भी शामिल थे. सउदी अरब अभी प्रति दिन करीब 100 लाख बैरल कच्चा तेल का उत्पादन करता है जिनमें करीब 70 लाख बैरल कच्चा तेल का निर्यात किया जाता है.